तलाश 💙

खुशियों की तलाश मेंआज फिर उदासी मिली हैउससे बातें करनी चाहीमगर आज भी वो दूर रही है #implicitwords_

मुलाक़ात

उसके चेहरे की झलकआंखों को ठंडक देती हैंमुलाक़ात जब उससे होती हैतब कहीं जा के दिल को सुकून मिलती है💙

बीमारी की मार

अमीरों के वजह से आया था जोआज गरीबों को सता रहा हैअमीर तो आराम से पकवान खा रहे हैंऔर गरीब अपने बच्चों को भूखा सुला रहा है।...

ज़िन्दगी

परेशान हर तरफ आज हर कोई हैकोई लाचार तो कोई मजबूर पैसों से हैक्या बयान करता खुद की परेशानियों कोजब देखा भूखा दस दिन के बच्चे को...