Categories
Poetrylife

मुझे भुलाया जा रहा है

आज एक अजीब खेल मेरे साथ खेला जा रहा हैबड़े प्यार से मुझे हर कोई याद किए जा रहा हैपता नहीं ये मेरे साथ क्या हो रहा हैऐसा लग रहा जैसे समंदर में मुझे फेका जा रहा है आज मुझे हर कोई बुला रहा हैना जाने क्यों यहां हर कोई मेरे लिए रोए जा रहा […]

Categories
Poetrylife

Mother’s day

दिन हो या रात होहर वक़्त तुम्हारी फिक्र में रहती हैमां बिना ज़िन्दगीहर पल अधूरी लगती हैं क्या कहना उसके प्यार काजो ज़िन्दगी में मिलती हैमां खुश रहेतो ज़िन्दगी हसीन लगती है हर पल ज़िन्दगीकाम में गुजार देती हैकभी अपनी तकलीफकिसी से बयान नहीं करती है वो चले जाए जो दुनिया सेपल में ज़िन्दगी वीरान […]

Categories
Poetrylife

Mother’s day

अम्मी कहों या कहो मां उसके प्यार में कुछ अलग बात हैहर मार में एक अलग एहसास हैवो तड़प जाती है अपने बच्चो की खातिरमगर बच्चे है जो उसे भुला जाते है जिसके रहती है जन्नत कदमों के नीचेजो दिलाती है एहसास खुदा के जैसेवो बस है दुनिया में एक शख़्सियत ऐसेजो कहलाती है मां, […]