Categories
Poetrylife

मुझे भुलाया जा रहा है

आज एक अजीब खेल मेरे साथ खेला जा रहा हैबड़े प्यार से मुझे हर कोई याद किए जा रहा हैपता नहीं ये मेरे साथ क्या हो रहा हैऐसा लग रहा जैसे समंदर में मुझे फेका जा रहा है आज मुझे हर कोई बुला रहा हैना जाने क्यों यहां हर कोई मेरे लिए रोए जा रहा […]

Categories
Poetrylife

ये वक़्त भी गुज़र जाएगा

ये वक़्त भी गुज़र जाएगाफिर खुशनुमा सा मौसम आएगाछट जाएगा हर दुख यहां सेफिर चेहरे पे हसीं सबके नजर आएगाये वक़्त भी गुज़र जाएगाफिर खुशनुमा सा मौसम आएगा आज दूर है परिवारों सेकल फिर सब साथ हो जाएगाआज लड़ रहे जो बीमारियों सेकल वो भी हस्ता खेलता नज़र आएगाये भी भी गुज़र जाएगाफिर खुशनुमा सा […]

Categories
Poetrylife

Mother’s day

दिन हो या रात होहर वक़्त तुम्हारी फिक्र में रहती हैमां बिना ज़िन्दगीहर पल अधूरी लगती हैं क्या कहना उसके प्यार काजो ज़िन्दगी में मिलती हैमां खुश रहेतो ज़िन्दगी हसीन लगती है हर पल ज़िन्दगीकाम में गुजार देती हैकभी अपनी तकलीफकिसी से बयान नहीं करती है वो चले जाए जो दुनिया सेपल में ज़िन्दगी वीरान […]

Categories
Poetrylife

Mother’s day

अम्मी कहों या कहो मां उसके प्यार में कुछ अलग बात हैहर मार में एक अलग एहसास हैवो तड़प जाती है अपने बच्चो की खातिरमगर बच्चे है जो उसे भुला जाते है जिसके रहती है जन्नत कदमों के नीचेजो दिलाती है एहसास खुदा के जैसेवो बस है दुनिया में एक शख़्सियत ऐसेजो कहलाती है मां, […]

Categories
Poetrylife

दोस्ती

ज़िन्दगी जब बेवफाई करती हैअक्सर दिल में बस एक ख्वाहिश जगती हैकह नहीं सकते खुल के हर बात किसी सेइसलिए हरपल ज़रूरत एक दोस्त की रहती है मिट जाते है हर ग़म दिलो सेजब हर बात एक दोस्त को बताते हैहोती चाहे कितनी भी परेशानियां क्यों नाहर परेशानियों से लडने की हिम्मत दे जाते है […]

Categories
Poetrylife

ऐ इंसान

ऐ इंसान तू क्या बन गयादेखते देखते कितना बदल गयामार जाते है लोग तेरी आंखो के सामनेतू तो बस पत्थर दिल बन गयाऐ इंसान तू क्या बन गयादेखते देखते कितना बदल गया क्यों तू इंसान की पहचान खो रहाबेजुबान जानवरो को तड़पा कर मार रहाकहता है खुद को इंसान बेशक मगरक्या तू कोई ऐसा काम […]