आज एक अजीब खेल मेरे साथ खेला जा रहा है
बड़े प्यार से मुझे हर कोई याद किए जा रहा है
पता नहीं ये मेरे साथ क्या हो रहा है
ऐसा लग रहा जैसे समंदर में मुझे फेका जा रहा है

आज मुझे हर कोई बुला रहा है
ना जाने क्यों यहां हर कोई मेरे लिए रोए जा रहा है
नहीं उठ सका नींद आज नज़ाने क्यों
जब मुझे हर कोई यहां उठाए जा रहा है

जो रहता था मुझसे खफा आज वो भी प्यार दिखा रहा है
ना जाने ये कौनसी जगह जहां मुझे ले जाया जा रहा है
कैसे करू बयान हाल ए दिल अपना
यहां तो हर कोई अपना ही दिखावे का दर्द दिखा रहा है

क्यों ये पल गुज़र नहीं रहा है
तन्हा मुझे छोड़ सब कहा जा रहा है
है बहुत अंधेरा इस जहान में
फिर ना जाने क्यों यहां मुझे अकेला छोड़ा जा रहा है

जो कमाए थे पैसे मैंने , वो साथ दिखाई नहीं दे रहा है
जिनके लिए गुज़र दी ज़िन्दगी वो भी छोड़ कर जा रहा है
ऐ खुदा मेरे साथ ये क्या हो रहा है
ना जाने आज मुझे तेरे पास होने का एहसास हो रहा है