खुशियों की तलाश में
आज फिर उदासी मिली है
उससे बातें करनी चाही
मगर आज भी वो दूर रही है

#implicitwords_